कोरोना के दृष्टिगत कुंभ मेले के आयोजन को प्रतीकात्मक रूप से किया जाना न्यायसंगत होगा

हरिद्वार। महाकुंभ मेला 2021 के भव्य आयोजन सीमित दायरे में किए जाने की मांग को लेकर सामाजिक संगठनों की और से उत्तराखंड विकास मंच के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग की अंतर्राष्ट्रीय वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत कुंभ मेला 2021 के भव्य व दिग्वे आयोजन को प्रतीकात्मक व सीमित व्यवस्थाओं के साथ किए जाने पर विचार करे राज्य सरकार, कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या व देश के अन्य राज्यों में दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, पंजाब, उत्तर प्रदेश जैसे देश के कई राज्यों में जनता की लापरवाही की वजह से कोरोना वैश्विक महामारी का पुनः संक्रमण फैलना चिंताजनक है ऐसे में कुंभ मेला 2021 के शाही स्नान में नियम शर्तों के साथ प्रतीकात्मक पूजा पाठ की अनुमति दें राज्य सरकार।

इस अवसर पर उत्तराखंड विकास मंच के प्रांतीय अध्यक्ष, सामाजिक कार्यकर्ता संजय चोपड़ा ने कहा कोरोना वैश्विक महामारी के बढ़ते प्रकोप के दृष्टिगत उत्तराखंड राज्य सरकार को कुंभ मेला 2021 के भव्य व वैदिक आयोजन को सीमित संसाधनों के साथ प्रतिक्रमक किया जाना चाहिए यदि भीड़-भाड़ अधिक संख्या में बनी रही तो कोरोना के फैलने की प्रबल संभावनाएं बनी रहेंगी।

उत्तराखंड सरकार से कुंभ मेला 2021 के भव्य वैदिक आयोजन शाही स्नान को प्रतीकात्मक रूप से किए जाने के साथ हरिद्वार शहरी क्षेत्र को सकरी गलियों, चैराहे, लिंक रोड का सड़कों का निर्माण किए जाने की मांग करते सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों में भूपेंद्र सिंह राजपूत, व्यापारी नेता राजेश खुराना, हंसराज दुआ, जय सिंह बिष्ट, राधेश्याम रतूड़ी, राजेश अरोड़ा, अवधेश कोठियाल, महिपाल सिंह रावत, चंद्रेश यादव, राजेंद्र पाल, छोटे लाल शर्मा, प्रभात चैधरी, विजेंद्र कुमार, अजय सडाना, ओमप्रकाश भाटिया, मनीष शर्मा आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!